जीवनसाथी

मेरे जीवन साथी,
बहुत छोटी सी ख्वाहिश है मेरी,
थोड़ा प्यार थोडी परवाह थोड़ा समय,
बस इतनी सी ही चाहत है मेरी,
कब कहा मुझे चाँद तारों की ख्वाहिश है,
कभी एकबार नजर भर देख लो बस,
मेरे शृंगार को पूर्णता मिल जायेगी . . .

छाया

%d bloggers like this: