धैर्य

जीवन में धैर्य ही सबकुछ है,
जल्दी सब जल्दी अवसाद क्रोध ईर्ष्या,
अनायास ही दुःख का प्रसाद हाथों में बाँट जाती है,
धैर्य जब साथ होता है मुश्किलें यूँ ही आसान हो जाती है,
चित्त शांत और जीवन में सुकून की ठंडक महसूस होती है . . .

छाया

%d bloggers like this: